रविवार, 20 मई 2007

सुपरमॉडल दीपिका- छुट्टी कर देगी ये लड़की

नज़र डालिए इस अप्सरा पर


मैं हू ना जैसी ऑलटाइम फ़ेवरिट दे चुकी फ़राह ख़ान की फ़िल्म ओम शांति ओम साल के आख़िर तक परदे पर आएगी. इसी फ़िल्म से मुंबइया फ़िल्म नगरी मे सुपरमॉडल दीपिका पादुकोण की एन्ट्री हो रही है. दीपिका नामी बैडमिंटन खिलाड़ी प्रकाश पादुकोण की बेटी हैं. बैडमिंटन की बजाय मॉडलिंग को चुना और यहीं धाक जमाई है. हालांकि वे अपने स्कूली दिनों में स्टेट लेवल की बैडमिंट खिलाड़ी रह चुकी है. इंडस्ट्री के दिग्गज़ों को दीपिका से बहुत आशा हैं. मुंबई में जन्मी और बैंगलोर में पली-बढ़ी दीपिका ने बचपन से ही विज्ञापनों की दुनिया मे क़दम रख दिया था. अपनी एथलेटिक बॉडी और मनमोहिनी मुस्कान से उन्होंने लाखों को दीवाना कर दिया. लिरिल साबुन, क्लोस अप मंजन, और लिम्का शीतल पेय के विज्ञापन के ज़रिए दीपिका की सुंदरता घर-घर तक जा पहुंची. जैसा कि होता कि मॉडलिंग जगत की सुंदरियां आमजनों के बीच भले ही नाम से न जानी जाएं लेकिन उनकी मनमोहिनी छबि दर्शकों की आंखों में बस जाती है. 2006 में दीपिका किंगफ़िशर कैलेन्डर में भी दिखाई दीं.
पांच फ़ीट नौ इंच लंबी छरहरी काया और मादक सौंदर्य की धनी दीपिका पहली बार टीवी के परदे पर हिमेश रेशमिया की फ़िल्म आपका सुरूर के प्रमोशनल सॉग नाम है तेरा तेरा में दिखाई दी हैं. नीचे यूट्यूब पर इस गीत का आनंद उठाएं.



दीपिका ने भरतनाट्यम का प्रशिक्षण लिया है. वे अर्थशास्त्र पढ़ रही हैं और अर्थजगत की ख़बरों की बारिक़ियां भी जानती हैं. पहली पसंद मॉडलिंग है. कन्नड़ फ़िल्म ऐश्वर्या में अभिनेता उपेंद्र के साथ काम किया है. यह उनकी पहली फ़िल्म रही है. इधर मुंबइया फ़िल्म नगरी में उनकी पहली फ़िल्म ओम शांति ओम के हीरो शाहरुख़ ख़ान होंगे. फ़िल्मजगत में क़दम रखने से पहले दीपिका ने अनुपम खेर के फ़िल्म एक्टिंग स्कूल में बाक़ायदा प्रशिक्षण लिया है. उन्हें 2004 में सोसायटी यंग एचीवर्स, लकमे इंडिया फ़ैशन वीक के दौरान मॉडल ऑव द ईयर अवार्ड 2005 से नवाज़ा गया है.

'म शांति ओम' के अलावा दीपिका की एक अन्य फिल्म 'देहली-6' रंग दे बसंती फेम निर्देशक राकेश ओमप्रकाश मेहरा निर्देशित कर रहे हैं। इतने नामचीन निर्देशकों ने यदि इस होनहार अभिनेत्री में दिलचस्पी दर्शाई है तो उसमें ज़रूर कोई ख़ास बात होगी। दीपिका की मनमोहक सूरत और क़ातिलाना अदाएँ उन्हें ग्लैमर और भावप्रधान अभिनय दोनों ही कसौटियों पर अव्वल दर्जे तक पहुँचा सकती हैं।







सभी चित्र हाईपिक्सल्स हैं. क्लिक करें




जाने-माने फ़िल्म समीक्षक जयप्रकाश चौकसे क्या लिखते हैं दीपिका के बारे में यहां पढ़ें.

सुंदरी के दर्शनार्थ आए हो तो कमेंटियाने में शरम कैसी? चढ़ावा देते चलो जजमान..

7 टिप्‍पणियां:

बेनामी ने कहा…

WOW Sexy gal
thnx for hi-pix

Robin

बेनामी ने कहा…

यह बिकाउ माल हे,सुन्दर्ता की बात मत करो

आलोक ने कहा…

प्रकाश पादुकोण समझ गए कि बैडमिण्टन से कुछ नहीं मिलने वाला। सही निर्णय लिया :)

नीरज दीवान ने कहा…

हम कहां सरमा रहा हूं. ये लो टीप दिया.. इसे ही श्रद्धापूर्वक चढ़ावा समझ लो पुजारी जी.

Sanjeet Tripathi ने कहा…

गनीमत है , हमरी टपकती लार किसी को नहीं दिखी

Pankaj Bengani ने कहा…

रे जुग जुग जी मेरे पुजारी.. जुग जुग जी...

खुश कर दिया ...

pratichi ने कहा…

hey bhagwan!!!
kya ab pujari yahi kaam karenge?